मेरा देश बदल रहा हैं …आज से वाहनों में दिन में भी जलेगी लाईट…

मेरा देश बदल रहा हैं …आज से वाहनों में दिन में भी जलेगी लाईट… यदि किसी वाहन की हेड लाईट दिन में भी जलती दिखे तो उसे बंद कराने का इशारा बिल्कुल भी न करें। जी हां, क्योंकि दिन में भी वाहन की लाईट जलाकर सफर करने का कानून लागू होने वाला है। सुप्रीम कोर्ट […]

मेरा देश बदल रहा हैं …आज से वाहनों में दिन में भी जलेगी लाईट…
यदि किसी वाहन की हेड लाईट दिन में भी जलती दिखे तो उसे बंद कराने का इशारा बिल्कुल भी न करें। जी हां, क्योंकि दिन में भी वाहन की लाईट जलाकर सफर करने का कानून लागू होने वाला है।

सुप्रीम कोर्ट ने बीएस-3 (भारत स्टेज) वाहनों की बिक्री पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने यह भी कहा है कि अब 01 अप्रैल से ऑटो कंपनियां बीएस-3 के वाहन नहीं बेच पायेंगी। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से देश में अब विदेशों की तरह नजारा देखने को मिलेगा। नये आने वाले बीएस-4 वाहनों में इंजन के स्टार्ट होते ही वाहन की हेडलाईट भी जल जायेगी, जिसे बंद नहीं किया जा सकेगा। इसके अलावा जो नये वाहन आयेंगे उसमें पॉल्यूशन कम होगा।

यूरोपियन देशों की तरह भारत सरकार का

देश में लागू हुए बीएस-4 मानकों के तहत अब दोपहिया वाहन बनाने वाली कंपनियों ने अपने सभी मॉडल से हेड लाईट ऑन-ऑफ करने का सिस्टम ही खत्म कर दिया है।

हेड लाईट ऑन ऑफ स्विच की जगह अब सभी दोपहिया वाहनों में आटोमैटिक हेड लाईट सिस्टम (AHO) होगा। इसमें इंजन स्टार्ट होते ही मोटर साईकिल की हेडलाईट अपने आप ऑन हो जायेगी। जब तक दोपहिया वाहन का इंजन स्टार्ट रहेगा तब तक हेडलाईट ऑन रहेगी। वाहन चालक इसे चाहकर भी बंद नहीं कर पायेंगे। अब सभी वाहन चालक दिन में भी हैडलाईट जलाकर चले तो आश्चर्य न करें।

नये मॉडलों में ही यह व्यवस्था रहेगी। पुराने वाहनों को हेडलाईट को मेनुअली ऑन रखना होगा। यदि दिन में दोपहिया वाहन में लाईट आफ मिली तो ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन माना जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *